स्टोक्स का बुक ‘ऑन फायर’ में खुलासा, वर्ल्ड कप में जानबूझकर हारी टीम इंडिया

नई दिल्ली। इंग्लैंड के ऑलराउंडर खिलाड़ी बेन स्टोक्स (Ben Stokes) ने अपनी बुक ‘ऑन फायर’ 2 साल पहले 14 नवंबर, 2019 में लॉन्च की थी। इस बुक में उन्होंने वर्ल्ड कप 2019 (World Cup 2019) का जिक्र करते हुए टीम इंडिया को लेकर को ऐसा खुलासा किया था कि क्रिकेट के जगत में बवाल मच गया था। उस समय महेंद्र सिंह धोनी और विराट कोहली पर भी कई सवाल उठाए गए थे। पाकिस्तान के पूर्व गेंदबाज सिंकदर बख्त ने दावा किया था कि स्टोक्स ने अपनी किताब में लिखा है—'भारतीय टीम जानबूझकर इंग्लैंड के खिलाफ हारी, जिससे पाकिस्तान वर्ल्ड कप से बाहर हो जाए।'

यह भी पढ़ें— भुवनेश्वर और चहल पर भारी पड़े पृथ्वी शॉ, जमकर लगाए चौके और छक्के, वीडियो वायरल

स्टोक्स के बयान पर मच गया था बवाल
बेन स्टोक्स ने अपनी किताब ‘ऑन फायर’ में वर्ल्ड कप 2019 के उस मैच का जिक्र किया जो भारत और इंग्लैंड के बीच खेला गया था। स्टोक्स ने कहा,'धोनी जब बैटिंग करने आए थे तो टीम इंडिया को 11 ओवरों में 112 रन चाहिए थे और उस समय भारतीय टीम को तेजी से रन बनाने की जरूरत थी। लेकिन धोनी और केदार जाधव ने अजीब तरीके से बल्लेबाजी की।'

धोनी में नहीं दिखाया था जीत का जज्बा
स्टोक्स के मुताबिक उस मैच में पूर्व भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने जीतने का जज्बा नहीं दिखाया था। इतना नहीं उन्होंने रोहित शर्मा और विराट कोहली की पार्टनरशिप भी सवालिया निशाना लगाया था। हालांकि बेन स्टोक्स ने इस दावे को नकार दिया था।

भारत की इस हार खफा हो गए थे क्रिकेट फैंस
वर्ल्ड कप 2019 के 38वें मैच में इंग्लैंड ने भारत के सामने जीत के लिए 338 रनों का लक्ष्य रखा था। लेकिन भारतीय टीम खराब प्रदर्शन करते हुए 5 विकेट के नुकसान पर 306 रन ही बना पाई थी और यह मुकाबला 31 रनों से गंवा बैठी थी। भारत की इस हार से फैंस काफी नाराज हुए थे। उस मैच में महेंद्र सिंह धोनी और केदार जाधव नाबाद लौटे थे। दोनों भारत को लक्ष्य तक नहीं पहुंचा पाए थे।

यह खबर भी पढ़ें:—कोहली को पीछे छोड़ नंबर-1 बल्लेबाज बने पाकिस्तान टीम के कप्तान बाबर आजम, बनाया वर्ल्ड रिकॉर्ड

गांगुली ने धोनी-जाधव की बल्लेबाजी पर जताई थी हैरानी
इंग्लैंड के खिलाफ उस मैच में धोनी ने 31 गेंदों में 42 रनों की पारी खेली। वहीं, केदार जाधव 13 गेंद पर 12 रन ही बना सके थे। जबकि इन दोनों ही खिलाड़ियों को ताबड़तोड़ पारी खेलने की जरूरत थी। इसके बाद धोनी और कोहली की इच्छाशक्ति पर भी उठाए गए थे। कमेंट्री बॉक्स में बैठे पूर्व भारतीय कप्तान सौरव गांगुली ने धोनी और केदार की बल्लेबाजी पर हैरानी जताते हुए कहा था कि मैच जिताने की जिम्मेदारी सिर्फ विराट कोहली और रोहित शर्मा की नहीं है।



from https://ift.tt/3hBdUrt

Post a Comment

0 Comments