BCCI ने शुभमन गिल को इंग्लैंड से वापस बुलाया! तीन महीने तक खेलना मुश्किल

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) ने इंग्लैंड दौरे पर चोटिल हुए टीम इंडिया के ओपनर शुभमन गिल को लेकर फैसला ले लिया ह। रिपोर्ट के अनुसार, बीसीसीआई ने शुभमन गिल को भारत वापस आने के लिए कह दिया है। इसके साथ ही बीसीसीआई ने शुभमन गिल के रिप्लेसमेंट को लेकर भी फैसला लिया है। बीसीसीआई रिप्लेसमेंट के तौर पर किसी भी अन्य खिलाड़ी को इंग्लैंड नहीं भेजेगा। पिछले कुछ दिनों से शुभमन गिल के रिप्लेसमेंट के तौर पर पृथ्वी शॉ का नाम सामने आ रहा था। मीडिया रिपोर्ट्स में बताया जा रहा था कि टीम मैनेजमेंट पृथ्वी शॉ को इंग्लैंड बुलाना चाहता है, लेकिन अब ऐसा नहीं हो पाएगा। कपिल देव ने भी इसको लेकर आपत्ति जताई थी।

4 अगस्त से शुरू होगी सीरीज
टीम इंडिया और इंग्लैंड के बीच पांच मैचों की टेस्ट सीरीज खेली जानी है। यह सीरीज 4 अगस्त से शुरू होगी। वहीं वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप फाइनल में शुभमन गिल चोटिल हो गए थे। उनकी चोट गंभीर बताई जा रही है। रिपोर्ट्स के अनुसार शुभमन की चोट को ठीक होने में करीब तीन माह का वक्त लगेगा। ऐसे में बीसीसीआई ने उन्हें इंग्लैंड दौरे से वापस बुलाने का फैसला लिया है। हालांकि अभी यह स्पष्ट नहीं हो पाया है कि शुभमन गिल कब तक भारत लौटेंगे। वहीं टीम मैनेजमेंट बैकअप के तौर पर एक या दो ओपनर टीम में चाहता है।

यह भी पढ़ें— इंग्लैंड दौरे के लिए नए खिलाड़ियों के चयन पर भड़के कपिल देव, कहा-टीम में मौजूद खिलाड़ियों के लिए यह अपमानजनक

bcci.png

ये रिप्लेस कर सकते हैं शुभमन गिल को
वहीं टीम मैनेजमेंट पहले ही स्पष्ट कर चुका है कि शुभमन गिल की जगह केएल राहुल को ओपनिंग का जिम्मा नहीं दिया जाएगा। इसके बाद रोहित शर्मा के साथ ओपनिंग करने के लिए मयंक अग्रवाल और अभिमन्यु ईश्वरन में से किसी एक को चुना जा सकता है।

यह भी पढ़ें— जानिए कौन हैं अभिमन्यु ईश्वरन जो टीम इंडिया में ले सकते हैं शुभमन गिल की जगह!

क्वारंटीन पीरियड बनी बाधा
क्रिकबज की रिपोर्ट के अनुसार, बीसीसीआई ने पृथ्वी शॉ और देवदत्त पडिक्कल को इंग्लैंड भेजने की मांग नहीं की थी। बीसीसीआई सिर्फ शुभमन गिल का रिप्लेसमेंट चाहता था। वहीं पृथ्वी शॉ और देवदत्त पडिक्कल सीरीज खेलने के लिए श्रीलंका दौरे पर हैं। यहां शिखर धवन की कप्तानी में टीम इंडिया को श्रीलंका के खिलाफ सीरीज खेलनी है। वहीं इन दोनों खिलाड़ियों को इंग्लैंड भेजना भी आसान नहीं है। कोरोना की वजह से श्रीलंका को भी भारत की तरह रेड जोन में रखा गया है। अगर इन दोनों खिलाड़ियों को इंग्लैंड भेजा जाता है तो वहां पहुंचने के बाद इन्हें कम से कम 10 दिन तक क्वारंटीन रहना होगा।



from https://ift.tt/3hGNpzx

Post a Comment

0 Comments