Anupama 21st July Written Updates: काव्या-पाखी ने की वनराज के कैफे का खाना बर्बाद,अनुपमा ने लगाई दोनों को खूब डांट

नई दिल्ली। शो 'अनुपमा' में इन दिनों दर्शकों फुल ऑन एंटरटेनमेंट देखने को मिल रहा है। एक बार फिर से पाखी और काव्या की दोस्ती हो गई है। जिसे देख अनुपमा नाखुश है। वहीं वनराज अपने कैफे को लेकर काफी चिंता में है। काव्या कैफे को लेकर वनराज को सपोर्ट नहीं कर रही है। वहीं पाखी और काव्या ऐसी हरकत कर देते हैं। जिसे देख सभी हैरान हो जाते हैं और अनुपमा का गुस्सा सातवें आसमान पर पहुंच जाता है। जानिए क्या होगा आज रात शो 'अनुपमा' के लेटेस्ट एपिसोड में।

काव्या संग पाखी की बढ़ती नजदिकियां नहीं पसंद आ रही अनुपमा को

पाखी की काव्या की ओर बढ़ती नजदिकियां अनुपमा को सताने लगी है। पाखी वनराज से कहती है कि वो काव्या के साथ रुकना चाहती है। वनराज और अनुपमा अपने-अपने काम पर निकलते है। कैफे में जाते ही अनुपमा वनराज को हिम्मत देती है कि आज का कल से भी बेहतर होगा। वनराज को अनुपमा बताती है कि कोई अगर कोई गुजरात का पानी भी पी लें, तो उसे एमबीए करने की जरुरत नहीं है।

बॉ ने देखा अनोखा सपना

बॉ पाखी,काव्या को उनकी गलती का एहसास दिलाने का एक सपना देखती है। जिसमें बॉ देखती है कि कैसे उनकी एक छोटी सी पहेली सी से पाखी और काव्या को उनकी गलती का पता चल जाता है और दोनों ही बॉ से माफी भी मांग लेते हैं। तभी पाखी और काव्या के हंसने की आवाज़ आती है बॉ का सपना टूट जाता है। बॉ जब काव्या और पाखा समझाने की कोशिश करती है। तो बिना सुने ही दोनों निकल जाती है।

ग्राहक को देख खुश हुए वनराज अनुपमा

कैफे में वनराज ग्राहक का इंतजार कर रहा होता है। वहीं अनुपमा अपनी डांस क्लास में बिजी होती है। लंबे समय के इंतजार के बाद कैफे में एक ग्राहक आता है। जिसे देख वनराज और अनुपमा काफी खुश हो जाते हैं।

यह भी पढ़ें- Anupama 20th July Written Updates: कैफे को लेकर वनराज को सताने लगी है चिंता, काव्या की बात सच होने का लग रहा है डर

दोस्तों से झूठ बोलने पर बॉ ने लगाई पाखी को डांट

पाखी के दोस्त घर आते है। ये देख बॉ काव्या से कहती है कि इस बारें में बताना चाहिए था। ताकि वो घर साफ कर पाती और बच्चों के लिए खाना बना पाती। पाखी अपने दोस्तों से काव्या को मिलाती है। पाखी के दोस्त उससे कहते हैं कि अब तो काव्या उसकी बेस्टी से स्टेप मां बन गई है। पाखी कहती है कि काव्या वैसे वाली स्टेप मां नहीं जैसे फिल्मों में दिखाई जाती है। वो काफी अच्छी है। पाखी ये भी बताती है कि काव्या ही उसे डांस सीखा रही है। ये सुनकर उसके दोस्त कहते हैं कि डांस तो उसकी मां अनुपमा सिखाती हैं।

पाखी झूठ बोलते हुए कहती है कि उनके पास टाइम नहीं। तभी बॉ आकर बच्चों को बताती है कि अनुमपा को घर काम, डांस स्कूल देखना होता है। वहीं पाखी खुद ही उससे डांस नहीं सिखना चाहती थी। बॉ पाखी को डांट लगाते हुए पूरा सच बताने को कहती है।

 

यह भी पढ़ें- Anupama 19th July Written Updates: कैफे के उद्घाटन के दिन भी काव्या ने किया खूब तमाशा, अनुपमा-वनराज को दी चुनौती

मामा संग शेयर की वनराज ने कैफे को लेकर अपनी चिंता

कैफे में ग्राहकों को ना देख वनराज काफी परेशान हो जाता है। वो मामा से अपनी चिंता को शेयर करता है। मामा भी वनराज को हौसला देते हैं कि सब ठीक हो जाएगा। जब अनुपमा ने डांस क्लास शुरू की थी। तब उसके पास एक बच्चा था और आज स्कूल बन गया है। वनराज बताता है कि अनुपमा के बिजनेस में पैसे नहीं लगे हैं। लेकिन उसके बिजनेस में काफी पैसे लगे हुए हैं। ये सुनकर मामा वनराज की चिंता को सही बताते हैं लेकिन हिम्मत देते हुए कैफे के चलने की बात भी कहते हैं। मामा के जाते ही वनराज ये सोचने लगता है कि कहीं काव्या की कही बातें सच ना हो जाए। अनुपमा वनराज को दुखी देख लेती है।

काव्या पर भड़की बॉ

पाखी के दोस्तों के संग काव्या को मस्ती करता देख बॉ गुस्सा हो जाती है। बॉ काव्या को कहती है कि बच्चों के साथ ही मस्ती करती रहोगी या बच्चों को खाना भी खिलाओगी। बॉ काव्या को किचन में जाकर खाना बनाने को कहती है।

वनराज को मिला पहला बड़ा ऑर्डर

अनुपमा अपने डांस स्कूल में आए बच्चों के पेरेंट्स को वनराज के कैफे में लेकर आती है। वनराज सभी को अपने कैफे की मसाला चाय पिलाता है। तभी कैफे में ऑर्डर का एक फोन आता है। मामा पूरा ऑर्डर लिख लेते हैं। ऑर्डर देख वनराज काफी खुश हो जाता है। वनराज सारा खाना पैक कर देता है और इंतजार करता है कि कोई उसे कोई लेने आए। काफी लंबे समय जब तक कोई नहीं आता तो वो परेशान हो जाता है। वहीं मामा खाने का ऑर्डर देने वाले का नाम लिखना भूल जाते हैं। तभी कैफे में ड्राइवर आता है और सामान ले जाता है। जब मामा पूछते हैं कि पैसे तो वनराज कहता है कि ऑनलाइन पेमेंट की थी।

पाखी ने पार की बदतमीजी की सारी हदें

कैफे में अनुपमा, वनराज, समर और मामा घर पहुंचते हैं। जहां वो पाखी के स्कूल के दोस्तों को देखते हैं। साथ ही टेबल पर रखे खाने को देख अनुपमा और समर चौंक जाते हैं। कैफे से आया खाना बच्चों ने खाया नहीं होता है। ऐसे में वो पूरा खाना बर्बाद हो जाता है। पाखी पापा वनराज के पास जाती है और बताती है कि उसके दोस्तों को कैफे का खाना कितना पसंद आया।

अनुपमा पाखी की हरकतों पर काफी नाराज़ हो जाती है और पाखी से पूछती है कि इसमें से ऐसा कुछ है कि जिसे खाया ना गया हो, पाखी बताती है कि उसके दोस्तों ने हर खाने को बस थोड़ा-थोड़ा ही खाया है। अनुपमा फिर कहती है कि तो बचे हुए खाने का क्या करें। तो पाखी कहती है कि आप लोग खा लीजिए। पाखी के जबाव को सुनकर अनुपमा गुस्सा हो जाती है और डांटते हुए कहती है कि बॉ और बाबू जी जूठा खाना खाएंगे।

( Precap- वनराज के कैफे से आया खाने की बर्बादी को देख अनुपमा पाखी को डांट लगाती है। ये देख काव्या कहती है कि वो खाने के पैसे और टिप दोनों दे देगी। तभी अनुपमा काव्या को याद दिलाती है कि कैफे उसके पति का ही है।)



from https://ift.tt/3kKRs1b

Post a Comment

0 Comments