'बालिका वधू' फेम सुरेखा सीकरी का निधन, 75 की उम्र में दुनिया को कहा अलविदा

Surekha Sikri Passes Away: छोटे पर्दे पर आने वाले सीरियल में अपने दमदार आवाज में पहचाने जानीवाली दादी सुरेखा के निधन से बॉलीवुड और टीवी जगत में शोक की लहर है। वो काफी लंबे समय से बीमार चल रही थी। उन्हें पहली बार साल 2018 में ब्रेन स्ट्रोक में आया, जिसके बाद उन्हें पैरालिसिस अटैक पड़ा था. फिर वो पूरी तरह से टूटती चली गई। दूसरे ब्रेन स्ट्रोक के बाद से वो अपने सेहत को लेकर काफी परेशानी थीं।

सुरेखा सीकरी का करियर

सुरेखा सीकरी ने छोटे पर्दे से लेकर बड़े पर्दे तक में काम किया है। साल 1978 में पॉलिटिकल ड्रामा फिल्म किस्सा कुर्सी का से सुरेखा ने अपने करियर की शुरूआत की थी। और अपने खास अभिनय के चलते ही सुरेखा को तीन बार बेस्ट सपोर्टिंग एक्ट्रेस के नेशनल अवॉर्ड से सम्मानित किया जा चुका है। उन्हें ये सम्मान फिल्म तमस (1988), मम्मो (1995) और बधाई हो (2018) के लिए मिला था. नेशनल अवॉर्ड के अलावा सुरेखा ने 1 फिल्मफेयर अवॉर्ड, 1 स्क्रीन अवॉर्ड और 6 इंडियन टेलीविजन अकेडमी अवॉर्ड्स जीते थे। सुरेखा ने हिंदी के अलावा मलायलम फिल्मों में भी काम किया था।



from https://ift.tt/3ihSazP

Post a Comment

0 Comments