क्या कोई तोड़ पाएगा कभी सचिन, लारा और कैलिस के ये रिकॉर्ड?

नई दिल्ली। क्रिकेट के इतिहास में अब तक कई रिकॉर्ड बने और टूटे हैं। लेकिन कुछ दिग्गज क्रिकेटर्स ने ऐसे रिकॉर्ड बनाए हैं जिनके टूटने के आसार दूर-दूर तक नजर नहीं आ रहे हैं। उन्हीं बल्लेबाजों में शामिल सचिन तेंदुलकर (sachin tendulkar) , ब्रायन लारा (brian lara) और जैक कैलिस (Jacques Kallis)। आइए जानते हैं उन तीन रिकॉर्ड्स के बारे में जिनका टूटना लगभग नामुमकिन है।

 

sachin_tendulkar.jpg

सचिन के 100 शतकों का रिकॉर्ड (sachin tendulkar)
क्रिकेट के भगवान कहे जाने वाले मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर ने संन्यास लेने से पहले कई ऐसे रिकॉर्ड बनाए हैं जिनका टूटना नामुमकिन लग रहा है। सचिन ने वर्ष 1989 में डेब्यू किया और 2013 में संन्यास लिया था। इस दौरान उन्होंने क्रिकेट के इतिहास में ऐसे कई कीर्तिमान स्थापित किए हैं जिन तक पहुंचना बहुत ही मुश्किल हैं। उन्होंने अपने क्रिकेट कॅरियर में कई तरह के उतार—चढ़ाव देखे हैं, लेकिन कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा। तीनों फॉर्मेट्स में उनके नाम 34357 रन है, जिसमें टेस्ट में 15921 और वनडे में 18426 रन शामिल हैं। सचिन में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में सबसे ज्यादा 100 शतक लगाए हैं। हो सकता है यह कारनामा करने वाले वह दुनिया के अकेले खिलाड़ी ही रहें, क्योंकि बाकी खिलाड़ी उनके इस रिकॉर्ड से अभी कोसो दूर हैं।

 

jacs_kalish.jpg

जैक कैलिस (Jacques Kallis)
जैक कैलिस ने दक्षिण अफ्रीका के लिए 1995 में डेब्यू किया और 2014 तक खेले। उन्होंने अपने कॅरियर में 166 टेस्ट, 328 वनडे और 25 टी20 मैच खेले। उन्होंने लगभग 17 साल तक अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट खेला। इस दौरान तीनों फॉर्मेट्स में 25534 रन बनाए और 577 विकेट भी झटके। क्रिकेट के इतिहास किसी अन्य ऑलराउंडर ने इतने लंबे समय तक नहीं खेला और आंकड़े कैलिस के आसपास भी नहीं रहे। वह दक्षिण अफ्रीका के उन हीरों से एक हैं जो सदियों एक बार आता है। टीम आज भी उनकी कमी को महसूस कर रही है, लेकिन जो रिकॉर्ड कैलिस ने बनाया है उसके पास किसी भी खिलाड़ी का पहुंचना असंभव लग रहा है।

brian_lara.jpg

ब्रायन लारा (brian lara)
ब्रायन लारा ने वर्ष 2014 में इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट क्रिकेट के इतिहास में एक ऐसा कीर्तिमान स्थापित किया था, जिसके नजदीक पहुंच पाना किसी भी क्रिकेटर के लिए एक सपना बना हुआ है। ब्रायन लारा ने इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट मैच में नंबर-3 पर बल्लेबाजी करते हुए 582 गेंदों में 400 रनों की अविश्वसनीय पारी खेली थी। उस दौरान वेस्टइंडीज ने 202 ओवर खेलकर 751 रनों पर पारी घोषित की थी। लारा का यह रिकॉर्ड आज भी कायम हैं। अब ये देखना दिलचस्प होगा कि क्या लारा का ये रिकॉर्ड कभी टूटेगा भी या नहीं।



from https://ift.tt/3ggOygI

Post a Comment

0 Comments