मैच में शतक जड़ने पर भारतीय क्रिकेटरों को बोनस में मिलते हैं 5 लाख रुपए, जानिए मैच फीस के बारे में

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड दुनिया के सबसे अमीर क्रिकेट बोर्ड्स में से एक है। बीसीसीआई अपने खिलाड़ियों पर जमकर पैसा खर्च करती है। खिलाड़ियों को सालाना कॉन्ट्रैक्ट के तौर पर बीसीसीआई करोड़ों रुपए देता है। इसके अलावा उन्हें मैच फीच और अन्य बोनस अलग से मिलता है। मैच में शतक जड़ने पर भी खिलाड़ी को लाखों रुपए मिलते हैं। वहीं मैच में पांच विकेट लेने वाले गेंदबाजों को भी बोर्ड से अच्छी खासी रकम मिलती है। बीसीसीसाई अपने सालाना कॉन्ट्रैक्ट में खिलाड़ियों को तीन कैटेगरी में बांटता है और उसी के अनुसार, उन्हेें पैसा मिलता है।

बोनस में मिलती है अच्छी खासी रकम
भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड ने काफी समय से खिलाड़ियों के लिए बोनस स्कीम शुरू की हुई है। पूर्व क्रिकेटर आकाश चोपड़ा के अनुसार, मैच में अगर कोई बल्लेबाज शतक लगाता है तो उसे बोनस के तौर पर 5 लाख रुपए मिलते हैं वहीं अगर कोई खिलाड़ी दोहरा शतक जड़ दे तो उसे 7 लाख रुपए बोनस में मिलते हैं। गेंदबाजों के लिए भी बोनस स्कीम है। अगर कोई गेंदबाज पारी में 5 विकेट लेता है तो उसे भी 5 लाख रुपये बोनस के रूप में मिलते हैं।

यह भी पढ़ें— 35 साल पहले टीम इंडिया ने आज ही के दिन पहली बार लॉर्ड्स में दर्ज की थी पहली जीत

yuvraj.png

मैच फीस
आकाश चोपड़ा ने यूट्यूब चैनल पर बताया कि बोनस के अलावा बीसीसीआई खिलाड़ियों को मैच फीस भी देता है। एक टेस्ट मैच के लिए जो खिलाड़ी प्लेइंग इलेवन में शामिल होता है, उसे 15 लाख रुपए मैच फीस के रूप में मिलते हैं। जो खिलाड़ी प्लेइंग इलेवन में शामिल नहीं होते उन्हें इसकी आधी रकम मिलती है। वहीं वनडे मैच के लिए यह मैच फीस 6 लाख रुपए होती है। इसके अलावा टी20 इंटरनेशनल क्रिकेट के एक मैच के लिए एक खिलाड़ी को बीसीसीआई की तरफ से 3 लाख रुपए मिलते हैं। इसके साथ ही खिलाड़ियों को दैनिक भत्ता भी दिया जाता है।

यह भी पढ़ें—क्रिकेट छोड़ने के बाद आर्थिक तंगी से गुजर रहा यह ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर, कर रहा कारपेंटर का काम

युवराज सिंह को मिले थे 1 करोड़ रुपए
इसके अलावा अगर टीम इंडिया आईसीसी क्रिकेट वर्ल्ड कप, टी20 वर्ल्ड कप, एशिया कप, बड़ी टेस्ट सीरीज, चैंपियंस ट्रॉफी जैसे बड़े इवेंट जीतती है तो इनामी राशि और बढ़ जाती है। वर्ष 2007 में जब टी20 वर्ल्ड कप में युवराज सिंह ने एक ओवर में 6 सिक्स लगाए थे। तब बीसीसीआई ने युवराज को एक करोड़ रुपए की ईनामी राशि अलग से दी थी। वहीं बोर्ड के सालाना कॉन्ट्रैक्ट में ए प्लस कैटेगरी में शामिल खिलाड़ियों सात करोड़ रुपए मिलते हैं। वहीं ए कैटेगरी वाले खिलाड़ियों को सालाना 5 करोड़, बी कैटेगरी वाले खिलाड़ियों को 3 करोड़ और सी कैटेगरी में शामिल खिलाड़ियों को एक करोड़ रुपए सालाना मिलते हैं।



from https://ift.tt/2TR0qON

Post a Comment

0 Comments