पोलियो के कारण खराब हुआ हाथ बना ताकत, इस गेंदबाज ने रनों से ज्यादा विकेट लेने का बनाया रिकॉर्ड

 

नई दिल्ली। बीएस चंद्रशेखर (Bhagwat Subramanya Chandrasekhar) यानी चंद्रा 1960-70 में टीम इंडिया के मशहूर स्पिनर रहे हैं। उनके नाम कई रिकॉर्ड्स दर्ज हैं। 17 मई, 1945 को चंद्रा का जन्म ब्रिटिश शासनकाल के मैसूर साम्राज्य में हुआ था। शुरुआती परवरिश मैसूर में होने के बाद उनका परिवार बेंगलुरु आ गया था। हालांकि यहां आने के बाद चंद्रा को छोटी सी उम्र में बड़ा झटका लगा था। वह सिर्फ 6 साल के थे कि पोलियो के कारण उनका दाहिना हाथ खराब होने लगा था। ऐसे में तब किसे अदांजा था कि वह एक दिन टीम इंडिया स्टार स्पिन गेंदबाज होंगे और यही हाथ उनकी ताकत बनेगा।

यह भी पढ़ें—सचिन तेंदुलकर का छलका दर्द, बोले-'10-12 साल टेंशन में गुजारे, रात को सो भी नहीं पाता था'

पोलियो को किया लेग ब्रेक से बोल्ड
चंद्रा की किस्मत अच्छी थी कि 10 साल के होते-होते उनका हाथ ठीक होने लगा था। इसके बाद चंद्रा का क्रिकेट कॅरियर शुरू हुआ और आगे चलकर वह टीम इंडिया के धुरंधर लेग ब्रेक बॉलर बने।

18 की उम्र में किया डेब्यू
चंद्रा जब 1964 में 18 साल के थे तो उनका डेब्यू हो गया था। इंग्लैंड के खिलाफ मुंबई टेस्ट में चंद्रा ने अपने पहले टेस्ट मैच में 4 विकेट चटकाए। चंद्रशेखर अपनी लेग ब्रेक में रफ्तार को अच्छे से इस्तेमाल करने के लिए जाने जाते थे और यही कारण है कि बल्लेबाजों को अक्सर मौका नहीं मिल पाता था। उनकी कई गेंदों को समझना विरोधी बैटरों के लिए किसी चुनौती से कम नहीं था।

50 साल पहले बनाया था रिकॉर्ड
बात उस वक्त की है जब 1971 में इंग्लैंड और भारत के बीच तीन टेस्ट सीरीज खेली जा रही थी। उस सीरीज में चंद्रा का अहम रोल रहा था। पहले दोनों मैच ड्रा हो चुके थे और फैसला ओवल टेस्ट पर टिका था। इंग्लैंड ने पहली पारी में भारत पर 71 रनों की बढ़त हासिल की थी। लेकिन दूसरी पारी में इंग्लैंड के बल्लेबाज कुछ खास कमाल नहीं दिखा पाए। इस दौरान चंद्रा का जादू चला और उन्होंने 38 रन देकर 6 इंग्लिश बल्लेबाजों को पैवेलियन की राह दिखाई। इंग्लैंड की पूरी पारी सिर्फ 101 रनों पर सिमट गई। भारत को सिर्फ जीत के लिए 173 रनों का लक्ष्य मिला और टीम इंडिया ने इंग्लैंड पर पहली बार ऐतिहासिक जीत दर्ज की।

यह भी पढ़ें—धनश्री वर्मा के बाद मुश्किल दौर से गुजर रहे युजवेंद्र चहल का छलका दर्द, शेयर किया इमोशनल पोस्ट

रन से ज्यादा विकेट चटकाने का रिकॉर्ड
चंद्रा के नाम टेस्ट क्रिकेट में रन बनाने से ज्यादा विकेट लेने का रिकॉर्ड दर्ज है। उन्होंने 15 साल क्रिकेट खेला और 58 टेस्ट में 29.7 की औसत से 242 विकेट झटके। जबकि बल्ले से उन्होंने 167 रन ही बनाए। वहीं उन्होंने एक वनडे मैच नहीं खेला, जिसमें उन्होंने 3 विकेट चटकाए। फर्स्ट क्लास के 246 मैचों में उन्होंने 1063 विकेट चटकाए। अब चंद्रा 76 साल के हो चुके हैं।



from https://ift.tt/33R7IUp

Post a Comment

0 Comments