ads

नेगेटिव फीडबैक मिलने पर यूं संभालें स्थिति, जानिए जरूरी टिप्स

बिजनेस में अगर आप सफल होना चाहते हैं तो आपको फीडबैक की अहमियत समझनी होती है। बिना फीडबैक के आप नहीं जान पाते कि लोग आपके प्रोडक्ट या सर्विस के बारे में क्या सोचते हैं? फीडबैक मिलने के बाद ही आप अपने प्रोडक्ट या सर्विस में बदलाव कर पाते हैं और उसे मार्केट की डिमांड के हिसाब से ढाल पाते हैं। हालांकि, जरूरी नहीं है कि आपको बिजनेस में हर बार सकारात्मक फीडबैक ही मिले।

यह भी देखें: कंटेंट मार्केटिंग के इन तरीकों से होगा बिजनेस में प्रोफिट

यह भी देखें: पब्लिक रिलेशन में बनाए कॅरियर, ये हैं जरूरी टिप्स

कई बार आपको नेगेटिव फीडबैक भी मिल सकता है लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि आप हार मान लें और अपने प्रोडक्ट या सर्विस को बेकार समझकर उसे बंद कर दें। जब आपको नेगेटिव फीडबैक मिले, तब आपको अपने प्रोडक्ट या सर्विस को बेहतर बनाने की दिशा में कदम बढ़ाने चाहिए। इससे आप अपने उन कस्टमर्स को खुश कर सकेंगे जिन्हें आपका प्रोडक्ट पसंद नहीं आया। याद रखें कि ऐसा शायद ही कोई एंटरप्रेन्योर होगा जिसे कभी नेगेटिव फीडबैक न मिला हो। आइए जानते हैं, ऐसे कुछ स्मार्ट तरीकों के बारे में जो नेगेटिव फीडबैक मिलने पर स्थिति संभालने में आपकी मदद करेंगे -

पर्सनली न लें
किसी भी नेगेटिव फीडबैक को पर्सनली न लें। इस तरह के फीडबैक से बाहर आने का यही तरीका होता है कि आप अपनी आलोचना को अपनी कंपनी को आगे बढ़ाने का एक जरिया मानें और उसे अपनी सफलता के लिए इस्तेमाल करें। आपको चाहिए कि जब भी कोई आपके प्रोडक्ट या सर्विस के बारे में नकारात्मक प्रतिक्रिया दे, तब आप सभी कॉमेंट्स को पढ़ें और गुस्से को हावी न होने दें। साथ ही, उनसे उनके बुरे अनुभव के लिए माफी भी मांगें।

हर बार जरूरी नहीं रेस्पॉन्स
अगर आप अपना सारा समय बुरे और नकारात्मक रिव्यूज से लडऩे में बिता देंगे तो आप यकीनन अपना बहुत-सा ऐसा कीमती समय और मौके गंवा देंगे जिनसे आपका बिजनेस बेहतर बन सकता है। यह सही है कि आपको बुरे और नकारात्मक रिव्यूज पर अपनी प्रतिक्रिया देनी चाहिए लेकिन हर बार ऐसा करना जरूरी नहीं है। जब लगे कि ऐसे रिव्यूज आपके बिजनेस की छवि खराब करेंगे, तभी रिएक्ट करें।

इस स्थिति से सीख लें
अपने बिजनेस की आलोचना को आप बेहतरी के रूप में देखें। अगर आप खुद को असंतुष्ट कस्टमर्स की जगह रखेंगे और सोचेंगे कि आपके प्रोडक्ट या सर्विस की वजह से उनका अनुभव बुरा क्यों रहा और यह जानने की कोशिश करेंगे कि इस तरह से अनुभवों को कम करने के लिए आप क्या कर सकते हैं तो, आपके सफल होने के अवसर बढ़ जाएंगे। अत: याद रखें कि जब भी आपको कोई नेगेटिव फीडबैक मिले तो आप उससे सीख लेने की कोशिश करें और अपने प्रोडक्ट या सर्विस को बेहतर बनाएं।

बातचीत करके कस्टमर्स को सॉल्यूशन दें
कई बार आप असंतुष्ट क्लाइंट्स या कस्टमर्स से बातचीत करके और उन्हें कोई हल सुझाकर, नेगेटिव फीडबैक से बच सकते हैं। अगर कोई कस्टमर आपसे आपके प्रोडक्ट या सर्विस के बारे में शिकायत करे तो उससे खुद बात करने की और उसकी शिकायत दूर करने की कोशिश करें। इससे कस्टमर्स आपकी कस्टमर सर्विस से खुश रहेंगे और नेगेटिव फीडबैक नहीं देंगे। हालांकि, अगर आप उस कस्टमर की शिकायत को दूर नहीं कर सकते तो इसे अपनी कंपनी के लिए एक मौके के तौर पर लें और गलती को सुधारने की कोशिश करें।

बेहतर बनने की कोशिश करें
जब भी आपको कोई फीडबैक मिलता है, भले ही वह नकारात्मक ही हो तो, इसका मतलब यह होता है कि किसी कस्टमर या क्लाइंट ने अपने व्यस्त समय में से कुछ समय आपके लिए निकाला है। उनके इस समय को अपने लिए एक कॉम्प्लीमेंट की तरह लें और अपने प्रोडक्ट या सर्विस को बेहतर बनाने का लक्ष्य निर्धारित करें। साथ ही इस लक्ष्य को हासिल करने के लिए जरूरी कदम उठाएं ताकि कस्टमर्स को खुश कर सकें।

समस्या की जिम्मेदारी लें
जब भी आपको कोई नकारात्मक फीडबैक मिले और वह सही हो तो एक सच्चे एंटरप्रेन्योर के रूप में आगे बढक़र उस गलती की जिम्मेदारी लें और अपने कस्टमर्स को यकीन दिलाएं कि आप उस गलती को सुधारकर प्रोडक्ट को बेहतर बना सकते हैं। हालांकि, अगर आपको लगे कि बताई गई गलती बेवजह है तो अपनी कंपनी और प्रोडक्ट के लिए जरूर आगे आएं। आपको स्टैंड लेता देख, आपके कस्टमर्स को अच्छा लगेगा।

पीआर प्रोफेशनल को हायर करें
अपनी कंपनी की छवि को बेहतर बनाने और नेगेटिव फीडबैक का जवाब देने के लिए आप किसी पीआर प्रोफेशनल को हायर कर सकते हैं। नेगेटिव फीडबैक पढक़र हो सकता है कि आप अपने किसी कस्टमर को सख्त लहजे में जवाब दे दें या अगर आपने जवाब नहीं दिया तो आपकी कंपनी की छवि खराब हो जाए। ऐसे में बेहतर यही रहेगा कि आप रिप्लाई देने का काम पीआर प्रोफेशनल पर छोड़ दें। चूंकि, यह उसका काम है तो वह बहुत ही सधे हुए शब्दों के साथ नकारात्मक फीडबैक का जवाब देगा। यह आपके बिजनेस के लिए भी काफी अच्छा रहेगा।



from https://ift.tt/3rDpiFV

Post a Comment

0 Comments