Subscribe Us

सैफ अली खान पर लग चुका है 'पद्मश्री' खरीदने का आरोप, एक्टर बोले- मैं तो इसे लौटाना चाहता था

नई दिल्ली | बॉलीवुड एक्टर सैफ अली खान सोशल मीडिया से दूर ही रहना पसंद करते हैं। वहीं किसी भी विवाद में फंसने के बाद सैफ उससे निकलने के लिए कोई ना कोई आसान रास्ता निकाल ही लेते हैं। सैफ को साल 2010 में पद्मश्री अवॉर्ड से सम्मानित किया गया था। जो देश का चौथा सबसे बड़ा सम्मान माना जाता है। हालांकि इस सम्मान से नवाजे जाने के बाद सैफ पर आरोप लगा कि उन्होंने इसे खरीदा है। जिसपर सैफ ने अरबाज खान के चैट शो पिंच में इसका जवाब दिया था। साथ ही ये भी बताया था कि क्यों उनके लिए पद्मश्री अवॉर्ड लेना शर्मनाक बात थी।

सैफ को कहा था पद्मश्री खरीदने वाला दो कौड़ी का ठग

सैफ अली खान ने अरबाज खान के चैट शो में अपनी पर्सनल और प्रोफेशनल लाइफ को लेकर कई सारे बातें की थी। जिसके एक सेग्मेंट के अंदर सैफ ने खुद एक ट्रोलर का कमेंट पढ़ा था। उस यूजर ने सैफ के बारे में कमेंट करते हुए कहा था- दो कौड़ी का ठग जिसने पद्मश्री अवॉर्ड खरीद लिया। इसके बाद तैमूर पर और उन्हें वेब सीरीज सैक्रेड गेम्स मिलने को लेकर भी कमेंट किया था। सैफ ने जवाब में दो टूक कहा था कि मैं दो कौड़ी का ठग बिल्कुल नहीं हूं। पद्मश्री खरीदना मेरे लिए संभव ही नहीं है। मैं भारत सरकार को घूस नहीं दे सकता। ये मेरी पहुंच से बाहर है। इसके लिए सीनियर लोगों से बातचीत करनी चाहिए।

ये भी पढ़ें- सैफ अली खान ने ली कार की ट्रेस्ट ड्राइव, पत्नी करीना कपूर को गिफ्ट करेंगे करोड़ों की गाड़ी?

saif_ali_khan_padma_shri.jpg

पद्मश्री अवॉर्ड नहीं लेना चाहते थे सैफ अली खान

इस आरोप के बाद सैफ अली खान ने इस बात का खुलासा भी किया था कि वो पद्मश्री कभी लेना ही नहीं चाहते थे। वो इस अवॉर्ड को लेने से इंकार करने वाले थे। लेकिन उनके पिता मंसूर अली खान पटौदी ने उन्हें ऐसा करने से रोक दिया था। सैफ को उन्होंने समझाया था कि तुम भारत सरकार को ना नहीं कह सकते बल्कि तुम्हें इसे बहुत खुशी और गर्व के साथ लेना चाहिए। सैफ ने इस सम्मान को खुशी के साथ रिसीव भी किया लेकिन फिर भी वो शर्मिंदगी महूसस कर रहे थे। सैफ को उन लोगों के लिए बुरा लग रहा था जो उनसे बहुत सीनियर और उम्दा कलाकार थे लेकिन ये पुरस्कार नहीं मिला था। सैफ ने आगे कहा कि मैं बस इतना बढ़िया काम करना चाहता हूं कि लोग मुझे ये कहकर याद करें कि मैं इस सम्मान का वाकई में हकदार हूं।



from https://ift.tt/3eA5lvP

Post a Comment

0 Comments